UP Election 2022: बुंदेलखंड में इस बार पुराने चेहरों पर साख बचाने का दारोमदार, जानिए यहां का चुनावी माहौल

लखनऊ[आलोकमिश्र]। वीरोंकीधरतीपरइसबारपुरानेचेहरोंपरसाखबचानेकादारोमदारहै।मुद्दोंकीधारपरजातीयसमीकरणोंकीतलवारतेजकीजारहीहै।वारकरनेकोहरदलतैयारहै।भगवासेनाकेपासकानून-व्यवस्थाकीमजबूतढालहैतोविपक्षकेहाथभीमहंगाईऔरबेरोजगारीजैसेतीर।विरोधीसत्तासेनाराजगीकानगाड़ाबजाकरअपनीसेनाजुटारहेहैंतोउसेरोकनेकेलिएसत्तारूढ़दलकेपास'दोहरी'दीवारहै।यहांप्यासबड़ासवालहैतोपांचसालोंमेंहुआविकासउसकाजवाब।चमचमातीसड़कोंपरआशाओंकेघोड़ेदौड़रहेहैंऔरऊंचीटंकियांसूखीधरतीपरपसीनाबहानेवालोंकेलिएसावनसरीखीउमंगकीउम्मीदबनकरभीखड़ीहैं।अबबाजीकिसकेहाथलगेगी,इसकाफैसलातोबुंदेलोंकाबिगुलहीसुनाएगा।बुंदेलखंडकेउन्नीसस्तंभोंकीकहानीकहतीयहरिपोर्ट...

उत्तरप्रदेशविधानसभाचुनावकेपिछलेदंगलमेंभाजपानेबुंदेलखंडकेसातजिलोंकी19सीटोंपरविजयरथदौड़ाकरअपनेदबदबेकाडंकाबजायाथा।इसदुर्गकेसबसेबड़ेकिलेझांसीकादिलकहेजानेवालेइलाईटचौराहेपरखड़ेहोकरदेखिएतोचुनावीमहासमरसाफनजरआताहै।एककोनेपरइनदिनोंबंदचलरहाइलाईटसिनेमाहैतोसामनेसियासीतस्वीर।सिनेमाहालकेबरामदेमेंकांग्रेसकाचुनावकार्यालयबनाहैतोदूसरेछोरपरवंदनास्वीट्सकेऊपरभाजपाऔरसपाकेविशालपोस्टरलगेहैं।सपाकेपोस्टरपरलिखाहैकि...बसएकमौकाचाहिएआपकीसेवाकरनेका।इसकेठीकनीचेभाजपाकापोस्टरऐलानकररहाहैकि....तरक्कीदिखतीहैफर्कसाफहै।

मतलबभीसाफहैकिभाजपाअपनेकामोंकोगिनानेकाप्रयासकररहीहैतोउसकेमुकाबलेखड़ीसपाअपनेलियेएकमौकामांगरहीहै।शायदइसलिएभीकिवर्ष1995मेंमुलायमसिंहनेहमीरपुरकीजिसतहसीलकोअलगकरनयाजिलामहोबाबनायाथा,उसकीदोनोंविधानसभासीटोंपरभीपिछलेचुनावमेंकमलखिलाथा।पार्टियोंकेपोस्टरोंकेसाथझांसीकीसदरसीटकेउम्मीदवारोंपरनजरदौड़ानेपरराजनीतिकाजातीयरंगभीसाफनजरआताहै।यहांभाजपाविधायकरविशर्माकेसामनेउनकीहीब्राह्मणजातिकेकांग्रेसउम्मीदवारराहुलरिछारियामैदानमेंहैं।सपासेसीतारामकुशवाहामैदानमेंहैंतोबसपानेकैलाशसाहूपरदांवलगायाहै।यानीजातीयगुणाभागऔरवोटोंकेबंटवारेकीबिसातसोचसमझकरबिछाईगईहै।

दूसरीसीटोंपरनजरदौड़ाएंतोकमोवेशवहांभीकुछऐसेहीमोहरेबिछाएगएहैं।बुंदेलखंडमेंअपनाअलगप्रभावरखनेवालेओबीसीवदलितवोटोंकेसाथदूसरीजातियोंकेसंतुलनकोभीबेहदबारीकीसेआंकागयाहै।ऐसेमेंभाजपानेअपनेविकासकार्योंकेबलबूते17उम्मीदवारोंकोदोबारामौकादियाहैतोझांसीकीमऊरानीसीटपरभगवाखेमेकेसहयोगीअपनादल(एस)सेरश्मिआर्यऔरजालौनकेकालपीसीटसेनिषादपार्टीकेछोटेसिंहचुनावमैदानमेंहैं।

सपामुखियाअखिलेशयादवकेबुंदेलखंडदौरेकेबादमुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेबुधवारकोझांसीमेंथे।वीरांगनारानीलक्ष्मीबाईकेइसशहरकेसदरक्षेत्रमेंरोडशोकरयोगीनेपूरेबुंदेलखंडकेकार्यकर्ताओंकोनसिर्फबड़ासंदेशदिया,बल्किउनमेंनईऊर्जाकासंचारभीकरगये।रोडशोसेपहलेयोगीउसमड़ियांमहादेवमंदिरमेंगये,जहांसपाशासनकालमेंउन्हेंजानेसेरोकदियागयाथा।इसीपौराणिकमंदिरकेआसपासअवैधढंगसेबसेमुस्लिमसमुदायकेलोगोंकोबीतेदिनोंदूसरेस्थानपरबसायाजाचुकाहै।अबऐतिहासिकमंदिरकोभव्यस्वरूपदेनेकीतैयारीहै।बुंदेलोंकीआबादीकाएकबड़ाहिस्साइसमंदिरमेंकाशीविश्वनाथकारीडोरकीपरछाईंभीदेखरहाहै।धार्मिकभावनाओंकेइसउफानकेबीचफिरसेचुनावमैदानमेंतालठोंकरहेचेहरोंकोलेकरनाराजगीकाज्वारभीकमनहींहै।

अबऊंटकिसकरवटबैठेगा,इसकाफैसलातोबुंदेलोंकेमनमेंछिपाहै।बबीनाक्षेत्रनिवासीरेलकर्मीसुनीलकुमारतोसाफकहतेहैंकिजीतनेकेबादविधायकक्षेत्रमेंतोपलटकरझांकनेभीनहींआये।कुछऐसाहीआक्रोशचायविक्रेतासोनूकाअपनेविधायकरविशर्माकेलिएभीहै।हां,इसनाराजगीसेइतरबुंदेलखंडकेघर-घरपानीपहुंचानेकेकेंद्रसरकारकेभगीरथप्रयासकोधरतीपरउतरतादेखरहेबदलतेबुंदेलखंडकेलिएअबकानून-व्यवस्थाभीकमबड़ामुद्दानहींहै।

झांसीविश्वविद्यालयकीस्नातकछात्रारिंकीअहिरवारकहतीहैंकिविधायकचाहेकोईबने।पानीआयेयानआये।एकबातसाफहैकिअबघरसेनिकलतेडरनहींलगता।इसीविश्वविद्यालयमेंफाइनआर्टविषयसेस्नातककररहेपंकजकुमारचक्रवर्तीकहतेहैंकिपहलेऔरैयामेंआयेदिनगोलीचलतीथी।अपनीआंखोंकेसामनेभीऐसामंजरदेखाथा,परअबऐसानहींहै।रोजगारकेअवसरऔरबढ़नेकीपैरोकारीकरतेपंकजकेपिताटेंपोचालकहैं।वहकोरोनाकालमेंपरिवारकोमुफ्तमिलेराशनकोनहींभूलते।तर्कदेतेहैंकिइससेउनकेवउनकेजैसेकईपरिवारोंपरमहंगाईकीमारनहींपड़ी।वहींभौतिकविज्ञानसेएमएससीकरनेकेबादकारोबारकररहेशेखरनलवंशीरोजगारकेसवालपरसरकारकोघेरतेहैं।कहतेहैंकिउद्योगलगनेचाहिए।स्मार्टसिटीजैसेनामदेनेसेकुछनहींहोता।