सड़क निर्माण के नाम पर खानापूर्ति

सिद्धार्थनगर:क्षेत्रकेअसनहरामाफीगांवस्थितराप्तीनदीपरबनाएप्रोचमार्गनिर्माणकेबादसेदोबारकटकरबहचुकाहै।जिसकेकारणराहगीरोंकोआवागमनमेंदुश्वारियांकेसाथहीहरसमयदुर्घटनाकाखतराभीमंडरातारहताहै।मरम्मतकेबादभीदोवर्षमेंदोबारइसकाकटजाना,कहींनकहींकार्यकीगुणवत्तापरप्रश्नचिन्हखड़ाकररहाहै।

वर्ष2016मेंउक्तगांवस्थितराप्तीनदीपरसिद्धार्थनगरवबलरामपुरकेकईगांवोंकोजोड़नेकेलिएसेतुकानिर्माणकार्यकरायागया।परछहमाहबादआईबाढ़मेंहीइसकाएप्रोचनदीमेंसमांगया।जिसकेकारणआवागमनबाधितहोगया।महीनोंस्थितिजसकीतसबनीरही।वर्ष2018केमई-जूनमहीनेमेंइसकोठीककरायागया,मगरकुछमाहहीबीते,किएकाएकएप्रोचफिरसेढहगया।जिसकेबाददोनोंजिलोंकासंपर्कटूटगया।इधरफिरबालूकीभित्तीपाटकरमार्गकोआवागमनहेतुदुरूस्तकरायागयाहै।धीरे-धीरेनदीमेंसमांरहाहै।इनपरिस्थितियोंमेंएप्रोचकितनेदिनऔरचालूरहेगाकहानहींजासकता।महफूजवअनुरागपाण्डेयनेबतायाकिविभागएप्रोचमरम्मतकेनामपरसिर्फखानापूर्तिकररहाहै।मिट्टीकेनामपरबालूपाटकरनिपटादियाजारहाहै।जिससेयहबार-बारकटजारहाहै।सुखदेववकरमहुसैननेबतायाकिनिर्माणकेबादसेयहएप्रोचआजतककभीएकवर्षलगातारसुरक्षितनहींरहपायाहै।जोजांचकाविषयहै।अधिशाषीअभियंतापीडब्लूडीइटवाकेशवलालनेबतायाइस्टीमेटभेजाजाचुकाहै।जैसेहीपैसाआएगाकार्यकरायाजाएगा।इसबारठोकरलगाकरएप्रोचकोमजबूतकियाजाएगाताकिभविष्यमेंफिरकटाननहो।